आपको पता है चींटी का ये रहस्य..?

आपको पता है चींटी का ये रहस्य..?

हर समय हम चींटियों को नजरअंदाज करते हैं, उन्हें पैरोंतले कुचल देते हैं और उन्हें काटने वाले दुष्टों से अधिक कुछ नहीं समझते। किंतु चींटी बहुत ही मेहनती और एकता से रहने वाली जीव होती है। सामूहिक प्राणी होने के कारण चींटी सभी कार्यों को बांटकर करती है। इसमें नर चींटी की कोई भूमिका नहीं होती है। विश्वभर में चींटियों की लगभग 14,000 से अधिक प्रजातियां पाई जाती हैं। ये 1 मिलीमीटर से लेकर 4 सेंटीमीटर तक की लंबाई की होती हैं। जिन चींटियों को हम सबसे अधिक पहचानते हैं, उनमें हैं काली चींटी, मकोड़ा। पेड़ों पर रहने वाली लाल चींटी, जो काटने के लिए मशहूर है और छोटी काली चींटी, जो गुड़ आदि मीठी चीजों की ओर अद्भुत आकर्षण दर्शाती है।

चींटी की योग्यताः-

चींटी के बारे में वैज्ञानिकों ने कई रहस्य उजागर किए हैं। चींटियां आपस में बातचीत करती हैं, वे नगर बनाती हैं और भंडारण की समुचित व्यवस्था करना जानती हैं। हमारे इंजीनियरों से कहीं ज्यादा बेहतर होती हैं ‍चींटियां। चींटियों का नेटवर्क दुनिया के अन्य नेटवर्क्स से कहीं बेहतर होता है। ये मिलकर एक पहाड़ को काटने की क्षमता रखती हैं। चींटियां शहर को स्वच्छ रखने में महत्वपूर्ण योगदान देती हैं। चींटियां खुद के वजन से 100 गुना ज्यादा वजन उठा सकती हैं। मानव को चींटियों से हुत कुछ सीखने की जरूरत है।

क्लिक करेःअपने नाम से जानें अपना भविष्य..


चींटी का मुख्य कार्य हैः-

वृक्ष तथा झाड़ी आदि के आसपास मरे हुए छोटे-छोटे जीवों को खाकर उन्हें
समाप्त करना, गंदगी को दूर करना, उनके द्वारा हो सकने वाली बीमारी के भय के कारण को खत्म करना। यह कार्य इतना सूक्ष्म है कि इसे और कोई प्राणी नहीं कर सकता।

चींटियों को भोजनः- 

चींटियां दो प्रकार की होती हैं- लाल और काली। इनमें से लाल को अशुभ और काली को शुभ माना गया है। दोनों ही तरह कीचींटियों को आटा डालने की परंपरा प्राचीनकाल से ही विद्यमान है। चींटियों को शकर मिला आटा
डालते रहने से व्यक्ति हर तरह के बंधन से मुक्त हो जाता है। हजारों चींटियों को प्रतिदिन भोजन देने से वे चींटियां उक्त व्यक्ति को पहचानकर उसके प्रति अच्छे भाव रखने लगती हैं और उसको वे दुआ देने लगती हैं। चींटियों की दुआ का असर आपको हर संकट से बचा सकता है।

* लाल चींटियों की कतार मुंह में अंडे दबाए निकलते देखना शुभ है। सारा दिन शुभ और सुखद बना रहता है।
* जो चींटी को आटा देते हैं और छोटी-छोटी चिड़ियों को चावल देते हैं, वे वैकुंठ जाते हैं।
* कर्ज से परेशान लोग चींटियों को शकर और आटा डालें। ऐसा करने पर कर्ज की समाप्ति जल्दी हो जाती है।

क्लिक करेः- मात्र 15 दिनों मे बढ़ाए ब्रेस्ट का साइज, वो भी पूरे नैचुरल तरीके से !

  • अंत में गाय को खिलाने से घर की पीड़ा दूर होगी।
  • कुत्ते को खिलाने से दुश्मन आपसे दूर रहेंगे। कौए को
  • खिलाने से आपके पितृ प्रसन्न रहेंगे।
  • पक्षी को खिलाने से व्यापार-नौकरी में लाभ होगा।
  • चींटी को खिलाने से कर्ज समाप्त होगा ।
  • मछली कोखिलाने से समृद्धि बढ़ेगी।
 

 


-विशेष संवादाता